Curofy
Dr. Manisha Chaudhary (Ayurveda) needs a second opinion on this medical case.
why Ayurveda required modern examination?? In ayurveda, acharya explain different type of अंजलि प्रमाण for धातु , उपधातु & मल, whenver अंगुली प्रमाण for length of अंग प्रत्यंग. अंजलि प्रमाण सच मे क्या है और कैसे किया जाता है ऐ कोई explain नई कर पाता उस वजह से दुष्य ke quantitave estimation नई हो पाता | अंजलि प्रमाण के बिना रोग निश्चित हो सकता है?? अगर हो सकता है to अंजलि प्रमाण की कोई आवश्यक नई है.. पर अंजलि प्रमाण के बिना नई हो सकता तब अंजलि प्रमाण के स्थान पे modern examination को use करना पड़ता है | example :- मधुमेह मै मूत्र मै सर्करा होती है, उसके परीक्षण के लिए मूत्र स्थान पर पिपलिकाभक्षण देखना पड़ता है | जो इस समय मे chemical examination से होता है प्रमेह के main dusya मे मेद excessive और अस्थायीभाव से रस और rakta मे अधिक होता है इसलिए रक्तगत मेद - fat & cholesterole ke प्रमाण ke लिए modern examination आवश्यक है l वाग्भट :- माधुर्याध्व तनदत : कह कर सर्करा की वृद्धि बताई है इसके लिए blood sugar test आवश्यक है l..
See this content immediately after install